Anand Mahindra Shared His Experience Of Using OpenAI ChatGPT Here Is What Businessman Says

Anand Mahindra on ChatGPT: बिजनेसमैन आनंद महिंद्रा ने तमिलनाडु में आयोजित हुए ग्लोबल इन्वेस्टर समिट के दौरान चैट जीपीटी को यूज करने का एक्सपीरियंस शेयर किया. उन्होंने कहा कि वे ओपन एआई के चैटबॉट को इस इवेंट से पहले यूज कर रहे थे ताकि वे ये जान सके कि तमिलनाडु में क्यों निवेश करना चाहिए ताकि वे इसे अपने भाषण में शामिल कर सके. चैट जीपीटी को यूज करने के बाद महिंद्रा एंड महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा ने कहा कि चैट जीपीटी का रिस्पॉन्स कुछ मामलों में बेहद इम्प्रेसिव था लेकिन ये ह्यूमन एक्सपीरियंस को बीट नहीं कर सकता. यानि इसमें ह्यूमन एक्सपीरियंस की कमी है और ये इंसानों की जगह नहीं ले सकता.

इसमें नहीं है ह्यूमन टच          

आनंद महिंद्रा ने इवेंट में कहा कि उन्होने जब चैट जीपीटी से ऊपर बताया गया सवाल पूछा तो इसके जवाब में चैट जीपीटी ने बताया कि तमिलनाडु इन्वेस्टमेंट के लिए एक अच्छी जगह इसलिए है क्योकि यहां अच्छा इंफ्रास्ट्रक्चर है, स्किल्ड वर्कफोर्स, डेवेलप्ड पोर्ट्स, अच्छी शिक्षा, गवर्नमेंट सपोर्ट आदि बहुत कुछ है. महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन ने कहा कि चैट जीपीटी की मदद से में एक अच्छी स्पीच तो दे सकता था लेकिन इसमें ह्यूमन एक्सपीरियंस का टच तमिलनाडु के बारे में नहीं था. उन्होंने कहा कि चैट जीपीटी अलग-अलग जगह से डेटा को लेता है लेकिन ये ह्यूमन एक्सपीरियंस को मिस करता है जो किसी भी क्षेत्र के लिए एक बड़ा फैक्टर है.

आनंद महिंद्रा की ये बात उन लोगों के लिए ज्यादा इम्पोर्टेन्ट है जो सोचते हैं कि AI की वजह से उनकी नौकरी चल जाएगी. भले ही AI आपके काम को मिनटों में कर दें लेकिन इसमें ह्यूमन टच की कमी रहेगी जिसे केवल एक इंसान ही पूरा कर सकता है.

तमिलनाडु में इन्वेस्टमेंट को लेकर आनंद महिंदा ग्रुप ने पिछले साल जुलाई में कहा था कि कंपनी चेंगलपट्टू में महिंद्रा रिसर्च वैली (MRV) में एक इलेक्ट्रिक वाहन बैटरी परीक्षण सुविधा और चेय्यर इंडस्ट्रियल पार्क में महिंद्रा एसयूवी प्रोविंग ट्रैक (MSPT) SIPCOT में एक क्रैश टेस्ट सुविधा स्थापित करेगी.  

 यह भी पढ़ें:

WhatsApp में अब आप खुद बना पाएंगे अपना मनपसंद स्टिकर, थर्ड पार्टी ऐप्स की नहीं पड़ेगी जरूरत

#Anand #Mahindra #Shared #Experience #OpenAI #ChatGPT #Businessman

Leave a Comment